NOI लखनऊ। कांग्रेस ने राज्यसभा चुनाव को लेकर भाजपा के साथ ही बसपा को भी घेरा है। प्रदेश अध्यक्ष अजय राय का कहना है कि राज्यसभा चुनाव में कांग्रेस के दोनों विधायकों ने गठबंधन धर्म का पालन करते हुए सपा प्रत्याशी के पक्ष में मतदान किया।
कांग्रेस विधायक पूरी मजबूती से गठबंधन के साथ खड़े रहे। जबकि बसपा विधायक का भाजपा के पक्ष में मतदान करने से यह पूरी तरह साफ हो गया है कि बसपा भाजपा की बी टीम बनकर काम कर रही है। भाजपा का कैसे फायदा होगा ? बसपा उस पर काम कर रही है।

राय ने पेपर लीक के मुद्दे पर राज्य सरकार काे घेरा। पार्टी मुख्यालय में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि यह पूरी तरह से पेपर लीक वाली सरकार बन चुकी है। पुलिस भर्ती परीक्षा मेें एक अभ्यर्थी से 400 रुपये परीक्षा शुल्क लिया गया। लाखों अभ्यर्थियों ने उसके बाद परीक्षा की तैयारी व परीक्षा देने जाने का खर्च भी उठाया। उसके बाद पेपर लीक हो जाता है। युवा दोहरी मार झेल रहे हैं।

भाजपा सरकार युवा, किसान व मजदूर के साथ अन्याय कर रही है। कांग्रेस इन सभी अन्यायों का विरोध करती है और पूरी ताकत के साथ भाजपा की जनविरोधी नीतियों के विरुद्ध लड़ेगी। उप्र कांग्रेस विधानमंडल दल की नेता आराधना मिश्रा मोना ने कहा कि राज्यसभा के चुनाव में भाजपा के आठवें प्रत्याशी को केवल 29 मत मिले, जिसमें से 21 वोट भाजपा ने अलाट किये थे। इससे साफ है कि अलाटमेंट से पहले ही उनकी रणनीति बन गई थी कि भाजपा को क्रास वोटिंग करानी है।

यह उत्तर प्रदेश ही नहीं बल्कि पूरे देश की राजनीति में बदलाव का संकेत है। इस अवसर पर विधायक वीरेन्द्र चौधरी, मीडिया विभाग के चेयरमैन डा.सीपी राय व अन्य पदाधिकारी मौजूद रहे।

0 Comments

Leave A Comment

Don’t worry ! Your email address will not be published. Required fields are marked (*).

LIVE अपडेट

Get Newsletter

Advertisement