शिमला, NOI : हिमाचल प्रदेश में किसी भी व्यक्ति के पास पुराना या फटा नोट है तो चिंता करने की बात नहीं। कोई भी पास की बैंक शाखा में नोट को बदलवा कर नया नोट ले सकता है। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआइ) की ओर से आमजन को इस संबंध में जानकारी दी जा रही है।

किसी भी राष्ट्रीयकृत बैंक शाखा में नोट बदले जा सकते हैं। नोट बदलने से कोई भी बैंक अधिकारी व कर्मी इन्कार नहीं कर सकता है। शिमला के कसुम्पटी स्थित भारतीय रिजर्व बैंक के क्षेत्रीय कार्यालय की ओर से बताया गया कि नोट बदलने से कोई बैंक इन्कार नहीं कर सकता है। प्रदेश में 12 राष्ट्रीयकृत और चार सहकारी बैंकों की 2244 शाखाएं हैं।

कसुम्पटी स्थित रिजर्व बैंक आफ इंडिया क्षेत्रीय शाखा में नोट बदलने की व्यवस्था नहीं है, जबकि चंडीगढ़ आरबीआइ कार्यालय में यह उपलब्ध है। भारतीय रिजर्व बैंक की ओर से नोट बदलने के लिए सभी राज्यों में जागरूकता अभियान चलाया गया है।

बैंक शाखा नोट बदलने के लिए अधिकृत

बैंक शाखा में नोटों को बदला जा सकता है। इसके लिए बैंक उपभोक्ता सीधे कैशियर के पास जाकर नोट बदलने के लिए कह सकता है। यदि किसी बैंक शाखा में नोट बदलने से मना किया जाता है तो उस बैंक में शिकायत दर्ज करें। शिकायत का निपटारा एक माह में नहीं होता है तो भारतीय रिजर्व बैंक के लोकपाल को शिकायत कर सकते हैं।

बिलासपुर के बैंकों में बदले जा रहे पुराने नोट

जिला बिलासपुर के बैंकों में पुराने नोट बदलवाने के लिए लोगों की लाइन लग रही है। लोगों के फटे-पुराने नोटों को बदला जा रहा है। इसके बदले उन्हें नए नोट दे दिए जा रहे हैं। बिलासपुर के टाडू चौक के पास एसबीआइ में इन दिनों लोगों को पुराने नोट बदलवाने के लिए लाइनों में लगते देखा जा रहा है। डीसी आफिस के साथ एसबीआइ ब्रांच में भी यही हाल है। इसके अलावा पीएनबी की शाखाओं में भी पुराने नोट बदले जा रहे हैं। हिमाचल ग्रामीण बैंक व को-आपरेटिव बैंकों में भी पुराने नोटों को बदला जा रहा है। इसके अलावा एसबीआइ भराड़ी और एसबीआइ झंडूता में भी पुराने नोटों को बदलवा सकते हैं।

0 Comments

Leave A Comment

Don’t worry ! Your email address will not be published. Required fields are marked (*).

LIVE अपडेट

Get Newsletter

Advertisement